Type Here to Get Search Results !

तेरी मूर्ति नहीं बोलदी मैं बुलाया लिरिक्स - Bhaktilok

 

तेरी मूर्ति नहीं बोलदी मैं बुलाया लिरिक्स


तेरी मूर्ति नहीं बोल्दी बुलाया लाख वार 

कदे हो के दयाल कर साडा वी ख़याल,

तैनू दुखड़ा मैं दातिए, सुनाया लख वार 

तेरी मूर्ति नहीं बोल्दी मैं बुलाया लख वार 


नित् बूहा एहो सोच के मैं मल्लां दातिए 

कदे माँ पुत्त करांगे नी गल्लां दातिए,

होर सारिया नू सुख दिते वंड माये नी,

पा दे साडे वी तूं कालजे च ठंड माये नी,

साडी सुण के पुकार क्यों तूं बैठी चुप धार 

तेरी ममता नूं मैं जगाया लख वार 

तेरी मूर्ति नहीं बोल्दी मैं बुलाया लख वार 

क्या मांगे वो बेटा जिसने माँ की ममता पायी है (Kya Maange Wo beta Jisane Ma Ki Mamta Paayi Hai Lyrics in Hindi) 

बोल मीठे मीठे बोल मायें गुस्सा जांण दे,

चुन्नी गोटे वाली भगता दे सिर ताण दे ,

दिल माँ दा जे बचेया तो दूर रहेगा 

फेर आसरा बे आसरे नूं कौन देवेगा,

क्यों हो के दैयावान इधर किता ना ध्यान,

बड़ी आस रख मैं ते धियाया लख वार,

तेरी मूर्ति नहीं बोल्दी मैं बुलाया लख वार 

श्री दुर्गा माता के 15 लोकप्रिय भजन (Maa Durga Ke 15 Best Bhajan in Hindi)

एहना कर्मा दे मरियां नु तु ही मारना,

कम् हुँदा ऐ मलाहा दा ते बेडा तारना,

तेरे ज़रा जिही इशारे दी ऐ गल्ल दातिए,

सारी मुश्किल ने हो जाणा हल्ल दातिए,

छेती हो जा प्रसन्न साड्डी बेनती तूं मन्न,

पा के निर्दोष कर ले मनाया लख वार

तेरी मूर्ति नहीं बोल्दी मैं बुलाया लख वार 



Ads Area