Type Here to Get Search Results !

गिरिराज धरण मैं तेरी शरण मेरे सब संताप मिटा देना लिरिक्स (Giriraj dharan main teri sharan Lyrics in Hindi) - Shyam Bhajan - Bhaktilok

 

गिरिराज धरण मैं तेरी शरण मेरे सब संताप मिटा देना लिरिक्स (Giriraj dharan main teri sharan Lyrics in Hindi) -


गिरिराज धरण मैं तेरी शरण, 

मेरे सब संताप मिटा देना,

नैय्या मेरी मँझधार पड़ी , 

मेरा बेड़ा पार लगा देना……..


करमों पर ध्यान लगाओगे, 

मेरे दोष ना तुम गिन पाओगे,

मैं जैसा भी हूँ तेरा हूँ ,

वैसा ही मुझे अपना लेना,

गिरिराज धरण मैं तेरी शरण 

मेरे सब संताप मिटा देना......


माया ने जब से घेरा है, 

बस चारों ओर अंधेरा है,

इस अंधियारे जीवन में प्रभु, 

छोटा सा दीप जला देना,

गिरिराज धरण मैं तेरी शरण 

मेरे सब संताप मिटा देना……..


पापी हूँ और व्यभिचारी हूँ, 

पर अब मैं शरण तिहारी हूँ,


तेरे चरणो का मैं सेवक हूँ, 

मेरी बिगड़ी नाथ बना देना,

गिरिराज धरण मैं तेरी शरण 

मेरे सब संताप मिटा देना..


गिरिराज धरण मैं तेरी शरण मेरे सब संताप मिटा देना लिरिक्स (Giriraj dharan main teri sharan Lyrics in English) -


giriraaj dharan main tera sharan,

mere sab santaap dena,

naiyya meree majhadhaar padee,

mera bada paar dena……..


karmon par dhyaan lagaoge,

mere dosh na tum gina paoge,

jaise main bhee hoon tera hoon ,

dhaarana hee mujhe apana lena,

giriraaj dharan main tera sharan

mere sab santaap dena......


maaya ne jab se ghera hai,

bas chaaron or andhera hai,

is andhiyaare jeevan mein prabhu,

chhota sa deep jala dena,

giriraaj dharan main tera sharan

mere sab santaap dena......


paapee hoon aur vyavahaaree hoon,

par ab main sharan tihaaree hoon,


tere charano ka main sevak hoon,

meree daadee naath banaana,

giriraaj dharan main tera sharan

mere sab santaap dena..



Ads Area