Type Here to Get Search Results !

एंडारो महानुभावुलु (Endaro MahanuBhavulu Lyrics in Hindi) - Endaro MahanuBhavulu - Bhaktilok

 

एंडारो महानुभावुलु (Endaro MahanuBhavulu Lyrics in Hindi) - 


कई महान हैं

सभी को नमस्कार ||


चंदुरू वर्ण की शोभा

हृदय और ब्रह्मानंद के आनंद का आनंद लें

उन सभी महानुभावों को प्रणाम


सम गण लोला मनसिजा लावण्या धन्य

मूरधन्यु के सभी महानुभावों को प्रणाम || 1 ||


मन एक जगह से दूसरी जगह भटकता रहता है और फिगर अच्छा रहता है

उन सभी महानुभावों को प्रणाम || 2 ||


सरगुना के चरणों में, स्वान्तमन और सरोजम को प्रसाद अर्पित करें

उन सभी महानुभावों को प्रणाम || 3 ||


परथापारा के बारे में जो पथिता पवनु है

परमार्थमगु सच्चे मार्ग के साथ रहेंगे

सल्लपम के साथ स्वर लयदी रागमुला डेलीउ

उन सभी महानुभावों को प्रणाम || 4 ||


हरि गुण मणिमय सरमूल गलामुना शोभिल्लु

धर्मनिष्ठ चोरों में सबसे बुद्धिमान

सुधा दृष्टि द्वारा करुणा गलगी जगमेला ब्रोचू

उन सभी महानुभावों को प्रणाम || 5 ||


होयलु मीरा नाडालु गलगु सरसुनि सदा कनुला

जुचुचुनु पुलका आनंद का योद्धा है

लगे रहेंगे और भविष्य में सफल रहेंगे

उन सभी महानुभावों को प्रणाम || 6 ||


परम भागवत मौनी वर ससि विभाकर सनका सानन्दना

डिगिशा सुरा किंपुरुष कनक काश्यपु सुता नारद थंबुरु

पवनसु बालचंद्र धारा शुका सरोजभव भुसुरवरुलु

सर्वोच्च भगवान, महान, शाश्वत, कमल के आनंद हैं

उन सभी महानुभावों को, जो सामान्य जन हैं, नमस्कार है || 7 ||


आप अपने पराक्रमी साहस की मन की शांति और अपने नाम की महिमा हैं

पाठ सत्य रघुवरा, तुमको सतभक्ति न मिले।

जेसिनत्ती नीमादि नेरिंगी संतसंबुनु गुण भजनानंद

कीर्तन करने वाले सभी महानुभावों को नमस्कार || 8 ||


भागवत रामायण गीता श्रुति शास्त्र पुराण रहस्य

शिवादि शन्मातामुला गुडामूलं तैंतीस सुरंतरंगमुला

भावनाओं के आराम से ही जीवन संभव है

सदा सुखी और त्यागी सभी महानुभावों को नमस्कार है || 9 ||


जब प्रेम परवान चढ़ता था तो वे नाम जपते थे

त्यागराजनुत के सच्चे सेवक, जो राम के भक्त थे

उन सभी महानुभावों को प्रणाम || 10 ||


एंडारो महानुभावुलु (Endaro MahanuBhavulu Lyrics in English) - 


kaee mahaan hain

sabhee ko namaskaar ||


chanduru varn kee shobha

hrday aur brahmaanand ke aanand ka aanand len

un sabhee pratibhaon ko salaam


dhany ho saim gan lola mansija

mooradhanyu ke sabhee mahaanubhaavon ko pranaam || 1 ||


man ek jagah se doosaree jagah bhatakata rahata hai aur phigar achchha rahata hai

un sabhee mahaanubhaavon ko pranaam || 2 ||


saragun ke charanon mein, svaantaman aur sarojam ko prasaad arpit karen

un sabhee mahaanubhaavon ko pranaam || 3 ||


paraathaapaara ke baare mein pathita pavanu hai

paramaarthamagu sachche maarg par rahenge

svar layadee raagula delai

un sabhee mahaanubhaavon ko pranaam || 4 ||


hari gun manimay saramool glaamuna shobhillu

pavitr choron mein sabase buddhimaan

sudha drshti dvaara karuna galagee jagamela brochoo

un sabhee mahaanubhaavon ko pranaam || 5 ||


hoyalu meera naadaalu galagu sarasuni sada kanula

juchuchunu pulak aanand ka yoddha hai

jaaree rahega aur bhavishy mein bhee saphal hoga

un sabhee mahaanubhaavon ko pranaam || 6 ||


param bhagavat maunee var sasi vibhaakar shanka saanandana

digisha sura kimpurush kanak kashyapu suta naarad thamburu

pavanasu baalachandr dhaara shuka sarojabhav bhusuravarulu

param prabhu, mahaan, shaashvat, kamal ka aanand hai

naamakaar hai || 7 ||


aap apane paraakramee saahas aur man kee shaanti kee mahima hain

path saty raghuvaara, tumako satyabhaati na mela.

jesinattee nimaadi neringee santasambunu gun bhajanaanand

keertan karane vaale sabhee mahaanubhaavon ko namaskaar hai || 8 ||


bhaagavat raamaayan geeta shruti shaastr puraan reyesee

shivaadi shanmaatamula gudamula tinatrijara shoorantarangamoola

bhaavanaon ke aaraam se hee jeevan sambhav hai

saada suchee aur lorens ko namaskaar hai || 9 ||


jab pyaar paravaan chadha to naam jap liya

tyaagaraajanut ke sachche sevak, jo raam ke bhakt the

un sabhee mahaanubhaavon ko pranaam || 10 ||


*** Singers: Dr M Balamuralikrishna ***



Ads Area