Type Here to Get Search Results !

कबीर संगी साधु का दल आया भरपूर दोहे का अर्थ(Kabir Sangi Sadhu Ka Dal Aaya Bharapur Dohe Ka Arth in Hindi)

 

कबीर संगी साधु का दल आया भरपूर दोहे का अर्थ(Kabir Sangi Sadhu Ka Dal Aaya Bharapur Dohe Ka Arth in Hindi):-


कबीर संगी साधु का, दल आया भरपूर।
इन्द्रिन को तब बाँधीया, या तन किया धर।

 

कबीर संगी साधु का दल आया भरपूर दोहे का अर्थ(Kabir Sangi Sadhu Ka Dal Aaya Bharapur Dohe Ka Arth in Hindi)


कबीर संगी साधु का दल आया भरपूर दोहे का अर्थ(Kabir Sangi Sadhu Ka Dal Aaya Bharapur Dohe Ka Arth in Hindi):-

सन्तों के साधी विवेक-वैराग्य, दया, क्षमा, समता आदि का दल जब परिपूर्ण रूप से ह्रदय में आया। तब सन्तों ने इद्रियों को रोककर शरीर की व्याधियों को धूल कर दिया। भावार्थात् तन-मन को वश में कर लिया।




Ads Area