Type Here to Get Search Results !

सूर्य नमस्कार करने का तरीका हिंदी में (Surya Namaskar Procedure in Hindi) - Bhaktilok

सूर्य नमस्कार करने का तरीका हिंदी में (Surya Namaskar Procedure in Hindi):-

सूर्य नमस्कार करने का तरीका हिंदी में (Surya Namaskar Procedure in Hindi) - Bhaktilok


आईये जानते है की सूर्य नमस्कार करने का सही तरीका (Surya Namaskar Procedure in Hindi):-


दोस्तों सूर्य नमस्कार कुल बारह आसनों को करने के बाद ही पूरा होता है - 

  1. अपने दोनों हाथ और दोनों पैरों को मिलाकर एकदम सीधा खड़े हो जाएं। एड़ी अलग होनी चाहिए, जबकि पैर की उंगलियां अलग होनी चाहिए। सिर, गर्दन और शरीर एक सीध में होना चाहिए। सामान्य रूप से सांस लें।
  2. सांस भरते हुए हाथों को ऊपर उठाएं और पीछे की ओर मोड़ें। कुछ देर सांस रोककर रखें।
  3. सांस छोड़ते हुए आगे की ओर झुकें, घुटनों को सीधा रखते हुए हाथों को पैरों के दोनों ओर जमीन पर टिकाएं। माथे को घुटनों के संपर्क में लाने की कोशिश करें। कुछ देर सांस रोककर रखें।
  4. हथेलियों को जमीन पर टिका दें। सांस लेते हुए बाएं पैर को पीछे ले जाएं, लेकिन ऐसा करते समय हाथ कोहनियों पर नहीं झुकना चाहिए। कमर सीधी होनी चाहिए। सिर उठाकर आकाश को देखने का प्रयास करें। कुछ देर सांस रोककर रखें।
  5. सांस छोड़ते हुए दूसरे पैर को पीछे ले जाएं। दोनों पैरों को टखनों और पंजों पर जोड़ लें। ठुड्डी को गले पर ले आएं। नितम्ब, कमर और सिर को एक पंक्ति में लेकर आएं और सांस को बाहर छोड़ते हुए श्वास को रोकने वाला कुम्भक करें।
  6. सांस भरते हुए पैरों, घुटनों, छाती, ठुड्डी, नाक और माथे से जमीन को स्पर्श करें। फिर सांस छोड़ते हुए पेट को जमीन से ऊपर उठाएं।
  7. अपने बाजुओं को सीधा करते हुए सांस लेते हुए सिर को ऊपर उठाकर सर्प आसन की मुद्रा में आ जाएं।
  8. अब पांचवें चरण में दी गई मुद्रा को मान लें।
  9. सांस भरते हुए और दोनों घुटनों को बाजुओं के बीच में लाते हुए वापस चार की स्थिति में आ जाएं।
  10. सांस छोड़ते हुए तीन की स्थिति में आ जाएं।
  11. अब सांस भरते हुए दूसरी स्थिति में जाएं।
  12. उसके बाद सांस छोड़ते हुए पहले की स्थिति में आ जाएं।


Ads Area