Type Here to Get Search Results !

जय जया शुभकर विनायक लिरिक्स (Jaya Jaya Subhakara Vinayaka Lyrics in Hindi) - Ganesh Chaturthi Special Bhajan - Bhaktilok

 

जय जया शुभकर विनायक लिरिक्स (Jaya Jaya Subhakara Vinayaka Lyrics in Hindi) - Ganesh Chaturthi Special Bhajan - Bhaktilok

जय जया शुभकर विनायक लिरिक्स (Jaya Jaya Subhakara Vinayaka Lyrics in Hindi) -


वक्रतुण्ड महाकाय कोटिसूर्य समप्रभ

निर्विघ्नं कुरुमेदेव सर्वकार्येषु सर्वदा....


जय जया शुभकर विनायक

श्री कनिपका वरसिद्धि विनायक

जय जया शुभकर विनायक

श्री कनिपका वरसिद्धि विनायक

आह आह आह आह…


बहुदानदी के तट पर कुँए में चमकता देवा

महानुभाव वह है जो माही में लोगों को गौरव प्रदान करता है

गणपति आपकी मनोकामना पूरी करते हैं जिन्होंने अपना इष्ट छोड़ दिया है

यह एक महाकृति है जो करुणा और उदारता बरसाती है

विघ्नपति संपूर्ण भौतिक संसार के निर्माता हैं

आपके मंदिर में सत्य की शपथ धार्मिकता की देवी का जीवन और समर्थन है

विजय का कारण विघ्न के विनाश के पूर्व आपकी दूरदर्शिता है


जय जया शुभकर विनायक

श्री कनिपका वरसिद्धि विनायक

जय जया शुभकर विनायक

श्री कनिपका वरसिद्धि विनायक


आप प्रतिभा से युक्त एक शानदार नेता बन गये हैं

वह अपने माता और पिता की परिक्रमा करके महागणपति बने

भक्तों को प्रसन्न करने के लिए गजमुख गणपति वैणौ

आपके शरीर में ब्रह्म छिपा हुआ है

लक्ष्मी गणपति लाभ, समृद्धि और प्रसिद्धि की देवी हैं

आपकी महिमा वेद, पुराण, विज्ञान और कलाओं द्वारा प्रदर्शित होती है

विभुदु का नीकीर्तन यह है कि वह झुक रहा है


जय जया शुभकर विनायक

श्री कनिपका वरसिद्धि विनायक

जय जया शुभकर विनायक

श्री कनिपका वरसिद्धि विनायक

आह आह आह आह…


जय जया शुभकर विनायक लिरिक्स (Jaya Jaya Subhakara Vinayaka Lyrics in English) -


vakratund mahaakaay kotisoory samaprabh

nirvighnan kurumedev sarvakaaryeshu sarvada....


jay jaya shubhakar vinaayak

shree kanipaka varasiddhi vinaayak

jay jaya shubhakar vinaayak

shree kanipaka varasiddhi vinaayak

aah aah aah aah…


bahudandee ke tat par kuen mein bhagavaan chamakate hain

mahaanubhaav vah hai jo maahee mein logon ko gaurav pradaan karata hai

jinhonne apana moh tyaag diya hai, ganapati aapakee manokaamana pooree karate hain

yah ek utkrsht krti hai jo karuna aur udaarata ko pradarshit karatee hai

vigyaanapati sampoorn bhautik sansaar ke nirmaata hain

aapake mandir mein saty kee shapath dhaarmikata kee devee ka jeevan aur samarthan hai

sankat ke vinaash se poorv aapakee dooradarshita hee vijay ka kaaran hai


jay jaya shubhakar vinaayak

shree kanipaka varasiddhi vinaayak

jay jaya shubhakar vinaayak

shree kanipaka varasiddhi vinaayak


aap pratibha se yukt ek shaanadaar neta ban gaye hain

vah apane maata aur pita kee parikrama karake mahaaganapati bane

bhakton ko prasann karane hetu gajamukh ganapati vainau

tumhaare shareer mein brahma chhipa hua hai

lakshmee ganapati laabh, samrddhi aur prasiddhi kee devee hain

aapakee mahima ved, puraan, vigyaan aur kalaon dvaara pradarshit hotee hai

vibhudu ka nikeertan yah hai ki vah jhuk raha hai


jay jaya shubhakar vinaayak

shree kanipaka varasiddhi vinaayak

jay jaya shubhakar vinaayak

shree kanipaka varasiddhi vinaayak

aah aah aah aah…


 

Ads Area