Type Here to Get Search Results !

एक दिन वो भोले भंडारी भजन लिरिक्स (Ek Din Vo Bhole Bhandari Bhajan Lyrics in Hindi) - Bholenath Bhajan by Rajender Jain - Bhaktilok

 

एक दिन वो भोले भंडारी भजन लिरिक्स (Ek Din Vo Bhole Bhandari Bhajan Lyrics in Hindi) - 


एक दिन वो भोले भंडारी

बन कर के ब्रिज की नारी

गोकुल में आ गये है

पारवती भी मना के हारी

ना माने त्रिपुरारी,

गोकुल में आ गये है


पारवती से बोले मैं भी

चलूँगा तेरे संग में,

राधा संग श्याम नाचे

मैं भी नाचूँगा तेरे संग में,

रास रचेगा ब्रिज में भारी

हमें दिखो प्यारी ,

गोकुल में आ गये है......


ओ मेरे भोले स्वामी

कैसे ले जाओ तोहे साथ में,

मोहन के सिवा वहा

कोई पुरुष ना जाये रास में,

हँसी करे गी ब्रिज की नारी

मान लो बात हमारी,

गोकुल में आ गये है......


ऐसा बनादो मुझे को 

कोई न जाने इस राज को,

मैं हु सहेली तेरी 

ऐसा बताना ब्रिज राज को,

बना के जुड़ा पहन के साड़ी 

चाल चले मत वाली,

गोकुल में आ गये है.......


देखा मोहन ने जब तो 

समझ गए ओ सारी बात रे 

ऐसी बजायी बंसी 

सूद बूद भूले भोलेनाथ रे 

सर से खिसक गयी जब साड़ी 

मुस्काए गिरधारी 

भोले शर्मा गए है


एक दिन वो भोले भंडारी 

बन कर के ब्रिज की नारी 

गोकुल में आ गये है

पारवती भी मना के हारी 

ना माने त्रिपुरारी, 

गोकुल में आ गये है ||



एक दिन वो भोले भंडारी भजन लिरिक्स (Ek Din Vo Bhole Bhandari Bhajan Lyrics in English) -


ek din vo bhole bhandaaree

ban kar ke pul kee naaree

gokul mein aa gaya hai

paarvatee bhee man ke haaree

na maane tripuraaree,

gokul mein aa gaya hai


paarvatee se bhee bole

chalenge tere sang mein,

raadha sang shyaam naache

main bhee naachoonga tere sang mein,

raas rachega brij mein bhaaree

hamen dekho bhagavaan,

gokul mein aa gaya hai......


he mere bhole svaamee

kaise le jao tohe saath mein,

mohan ke sivae

koee purush na jaaye raas mein,

hansee kare gee brij kee naaree

man lo baat hamaaree,

gokul mein aa gaya hai......


aisa banaado mujhe

koee na jaane is raaj ko,

main hu dost teree

aisa varnan brij raaj ko,

bane ke baatharoom ke kapade

chal-chal mat vaalee,

gokul mein aa gaya hai.......


mohan ne dekha jab to

samajh gae o saaree baat re

aisee bajaay bansee

sood bood bhoole bholenaath re

sar se khisakana jab berojagaaree

muskae giradhaaree

bhole sharma gae hain


ek din vo bhole bhandaaree

ban kar ke pul kee naaree

gokul mein aa gaya hai

paarvatee bhee man ke haaree

na maane tripuraaree,

gokul mein aa gaya hai ||


एक दिन वो भोले भंडारी भजन लिरिक्स (Ek Din Vo Bhole Bhandari Bhajan Lyrics in Hindi) - 


एक दिन वो भोले भंडारी बनकर के ब्रिज नारी 

गोकुल में आ गए हैं ...........

पारवती भी मन के हारी ना माने त्रिपुरारी

गोकुल में आ गए हैं ...........


पार्वती से बोलै मैं भी चलूँगा संग में 

राधा संग श्याम नाचे मैं भी नाचूंगा तेरे संग में

रास रचेगा ब्रिज में भारी मुझे दिखाओ प्यारी 

गोकुल में आ गए हैं ...........


ओ मेरे भोले स्वामी कैसे ले जाऊं तुम्हे साथ में

मोहन के सेवा वहां कोई पुरुष ना जाए साथ में 

हंसी करेंगी ब्रिज की नारी मानो बात हमारी 

गोकुल में आ गए हैं ...........


ऐसे बना दो मुझे जाने ना कोई इस राज़ को 

मैं हूँ सहेली तेरी ऐसा बताना ब्रिज राज को 

लगाके बिंदी पहन के साड़ी चाल चले मतवारी 

गोकुल में आ गए हैं ...........


हंस के सखी ने कहा बलिहारी जाऊं इस रूप में 

इक दिन तुम्हारे लिए आये मुरारी इस रूप में 

मोहिनी रूप बनके मुरारी अब ये तुम्हारी बारी 

गोकुल में आ गए हैं ...........


देखा मोहन ने समझ गए वो सब बात रे 

ऐसी bajai बंसी सुध बुध भूले भोलेनाथ रे 

सर से खिसक गयी जब साडी तो मुस्काये गिरधारी 

भोले शर्मा गए हैं .........


दीं दयालु तब से गोपेश्वर हुआ नाम रे 

ओ भोले बाबा तेरा वृन्दावन में बना धाम रे 

ताराचंद कहे ओ त्रिपुरारी रखियो लाज हमारी 

शरण में आ गए हैं...............


  • Song: Ek Din Wo Bhole Bhandari
  • Singer: Rajender Jain - Pushpa - Anjali
  • Writer: Tarachand
  • Music: Rajendra Jain
  • Category: HIndi Devotional ( Shyam Bhajan)
  • Producers: Amresh Bahadur, Ramit Mathur
  • Label: Yuki

Ads Area