Type Here to Get Search Results !

टॉप 10 राम भजन (Top 10 Ram Bhajan List) - Ram Bhajan - Bhaktilok


टॉप 10 राम भजन (Top 10 Ram Bhajan List) 



 (toc) #title=(Table of Content)


1. सीता राम सीता राम सीताराम कहिये (Sita Ram Sita Ram Sita Ram Kahiye Lyrics in Hindi) - 


सीता राम सीता राम

सीताराम कहिये

जाहि विधि राखे राम

ताहि विधि रहिये।


मुख में हो राम नाम

राम सेवा हाथ में

तू अकेला नाहिं प्यारे

राम तेरे साथ में ।

विधि का विधान जान

हानि लाभ सहिये

जाहि विधि राखे राम

ताहि विधि रहिये ॥


सीता राम सीता राम

सीताराम कहिये

जाहि विधि राखे राम

ताहि विधि रहिये ।


किया अभिमान तो फिर

मान नहीं पायेगा

होगा प्यारे वही जो

श्री रामजी को भायेगा ।

फल आशा त्याग

शुभ कर्म करते रहिये

जाहि विधि राखे राम

ताहि विधि रहिये ॥


सीता राम सीता राम

सीताराम कहिये

जाहि विधि राखे राम

ताहि विधि रहिये ।


ज़िन्दगी की डोर सौंप

हाथ दीनानाथ के

महलों मे राखे चाहे

झोंपड़ी मे वास दे ।

धन्यवाद निर्विवाद

राम राम कहिये

जाहि विधि राखे राम

ताहि विधि रहिये ॥


सीता राम सीता राम

सीताराम कहिये

जाहि विधि राखे राम

ताहि विधि रहिये ।


आशा एक रामजी से

दूजी आशा छोड़ दे

नाता एक रामजी से

दूजे नाते तोड़ दे ।

साधु संग राम रंग

अंग अंग रंगिये

काम रस त्याग प्यारे

राम रस पगिये ॥


सीता राम सीता राम

सीताराम कहिये

जाहि विधि राखे राम

ताहि विधि रहिये ।


2. तेरी मर्जी का मैं हूं गुलाम मेरे अलबेले राम (Teri Marji Ka Mai Hu Gulam Mere Alabele Ram Lyrics in Hindi) - 


तेरी मर्ज़ी का में हूँ 

गुलाम ओ मेरे अलबेले राम

अलबेले राम मेरे मतवाले श्याम


जो भी करले हम है 

तुम पार न्योचछवर

दौलत मेरी तेरा नाम मेरे अलबेले राम

अलबेले राम मेरे मतवाले श्याम


तेरी मर्ज़ी का में हूँ 

गुलाम ओ मेरे अलबेले राम

तक भी गया हूँ इस लंबे सफ़र मे

मेरा जीना हुआ है 

हराम मेरे अलबेले राम

तेरी मर्ज़ी का में हूँ 

गुलाम ओ मेरे अलबेले राम


तेरी रज़ा मे अब करली है राज़ी

हमे दे दो सजाया एनाम 

मेरे अलबेले राम

तेरी मर्ज़ी का में हूँ 

गुलाम ओ मेरे अलबेले राम


अलबेले राम मेरे अलबेले राम मेरे

तेरी मर्ज़ी का में हूँ 

गुलाम ओ मेरे अलबेले राम


3. राम की कृपा से सब काम हो रहा है लिरिक्स (Ram Ki Kripa Se Sab Kaam Ho Raha Hai Lyrics) -


श्री राम की कृपा से 
सब काम हो रहा है
करते हो तुम ही भगवन 
मेरा नाम हो रहा है
श्री राम की कृपा से 
सब काम हो रहा है…

पतवार के बिना ही 
मेरी नाँव चल रही है
हैरान है ज़माना 
मंजिल भी मिल रही है
करता नहीं मैं कुछ भी 
सब काम हो रहा है
करते हो तुम ही भगवन 
मेरा नाम हो रहा है
श्री राम की क़ृपा से 
सब काम हो रहा है…

तुम साथ हो जो मेरे 
किस चीज की कमीं है
किसी और चीज़ की अब 
दरक़ार भी नहीं है
तेरे साथ से ग़ुलाम अब 
गुलफ़ाम हो रहा है
करते हो तुम ही भगवन 
मेरा नाम हो रहा है
श्री राम की क़ृपा से…

मैं तो नहीं हूँ काबिल 
तेरा पार कैसे पाऊँ
टूटी हुई वाणी से 
गुणगान कैसे गाऊँ
तेरी ही प्रेरणा से ही सब 
ये कमाल हो रहा है
करते हो तुम ही भगवन 
मेरा नाम हो रहा है
श्री राम की क़ृपा से…

श्री राम की कृपा से 
सब काम हो रहा है
करते हो तुम ही भगवन 
मेरा नाम हो रहा है
श्री राम की क़ृपा से…

4. हमने आँगन नहीं बुहारा कैसे आयेंगे भगवान लिरिक्स (Humne Aangan Nahi Buhara Lyrics in Hindi) - 


हमने आँगन नहीं बुहारा 

कैसे आयेंगे भगवान

कैसे आयेंगे भगवान 

चंचल मन को नहीं संभाला

कैसे आयेंगे भगवान 

कैसे आयेंगे भगवान…


हर कोने कल्मष कषाय की 

लगी हुई है ढेरी

नहीं ज्ञान की किरण 

कहीं भी हर कोठरी अँधेरी

आँगन चौबारा अँधियारा 

आँगन चौबारा अँधियारा

कैसे आयेंगे भगवान 

कैसे आयेंगे भगवान…


हृदय हमारा पिघल ना पाया 

जब देखा दुखियारा

किसी पन्थ भूले ने हमसे 

पाया नहीं सहारा

सूखी है करुणा की धारा 

सूखी है करुणा की धारा

कैसे आयेंगे भगवान 

कैसे आयेंगे भगवान…


अन्तर के पट खोल देख लो 

ईश्वर पास मिलेगा

हर प्राणी में ही परमेश्वर 

का आभास मिलेगा

सच्चे मन से नहीं पुकारा 

सच्चे मन से नहीं पुकारा

कैसे आयेंगे भगवान 

कैसे आयेंगे भगवान…


निर्मल मन हो तो रघुनायक 

शबरी के घर जाते

श्याम सूर की बाँह पकड़ते 

साग विदुर घर खाते

इस पर हमने नहीं विचारा 

इस पर हमने नहीं विचारा

कैसे आयेंगे भगवान 

कैसे आयेंगे भगवान…


हमने आँगन नहीं बुहारा 

कैसे आयेंगे भगवान

कैसे आयेंगे भगवान 

चंचल मन को नहीं संभाला

कैसे आयेंगे भगवान 

कैसे आयेंगे भगवान…


5. राम से बड़ा राम का नाम जो सुमिरे भव पार हो जाए (Ram Se Bada Ram Ka Naam Jo Sumire Bhav Paar Ho Jaye Lyrics in Hindi) - 


राम से बड़ा राम का नाम
जो सुमिरे भव पार हो जाए
बनेंगे बिगड़े सारे काम रे प्राणी
उद्धार हो जाए
राम सें बड़ा राम का नाम
जो सुमिरे भव पार हो जाए ॥

उल्टा नाम जपत जग जाना
वाल्मीकि भए ब्रम्ह समाना
की धुल गए उनके पाप तमाम
परम पद अंत में पाए
राम सें बड़ा राम का नाम
जो सुमिरे भव पार हो जाए ॥

सुमिरि पवनसुत पावन नामा
अपने वश करी राखेउँ रामा
है उनके दिल में बसे श्री राम
वो सीना फाड़ दिखलाए
राम सें बड़ा राम का नाम
जो सुमिरे भव पार हो जाए ॥

कौशल्या माँ ध्यान लगाई
पुत्र रूप में राम को पाई
अवध में जनम लिए श्री राम
जो पावन धाम कहलाए
राम सें बड़ा राम का नाम
जो सुमिरे भव पार हो जाए ॥

पाप और पापी से हारे
धरती से जब संत पुकारे
राम किए असुरों का संहार
धरम ध्वज आके लहराए
राम सें बड़ा राम का नाम
जो सुमिरे भव पार हो जाए ॥

जनम लेत तुलसी बोले राम
रामबोला पड़ा उनका नाम
अंत में दरश दिए श्री राम
रामायण उनसे लिखवाए
राम सें बड़ा राम का नाम
जो सुमिरे भव पार हो जाए ॥

राम नाम पत्थर तैराए
सागर पे सेतु बंधवाए
शिला पे लिख दिया श्रीराम
वो पत्थर डूब ना पाए
राम सें बड़ा राम का नाम
जो सुमिरे भव पार हो जाए ॥

शबरी बैठी आस लगाए
कुटिया में प्रभु राम जी आए
भगत के वश में हुए भगवान
वो झूठे बेर भी खाए
राम सें बड़ा राम का नाम
जो सुमिरे भव पार हो जाए ॥

राम से बड़ा राम का नाम
जो सुमिरे भव पार हो जाए
बनेंगे बिगड़े सारे काम रे प्राणी
उद्धार हो जाए
राम सें बड़ा राम का नाम
जो सुमिरे भव पार हो जाए ॥

6. श्री रामचन्द्र कृपालु भजुमन (Shri Ram Chandra Kripalu Lyrics in Hindi) - 



॥दोहा॥
श्री रामचन्द्र कृपालु भजुमन
हरण भवभय दारुणं ।
नव कंज लोचन कंज मुख
कर कंज पद कंजारुणं ॥१॥

कन्दर्प अगणित अमित छवि
नव नील नीरद सुन्दरं ।
पटपीत मानहुँ तडित रुचि शुचि
नोमि जनक सुतावरं ॥२॥

भजु दीनबन्धु दिनेश दानव
दैत्य वंश निकन्दनं ।
रघुनन्द आनन्द कन्द कोशल
चन्द दशरथ नन्दनं ॥३॥

शिर मुकुट कुंडल तिलक
चारु उदारु अङ्ग विभूषणं ।
आजानु भुज शर चाप धर
संग्राम जित खरदूषणं ॥४॥

इति वदति तुलसीदास शंकर
शेष मुनि मन रंजनं ।
मम् हृदय कंज निवास कुरु
कामादि खलदल गंजनं ॥५॥

मन जाहि राच्यो मिलहि सो
वर सहज सुन्दर सांवरो ।
करुणा निधान सुजान शील
स्नेह जानत रावरो ॥६॥

एहि भांति गौरी असीस सुन सिय
सहित हिय हरषित अली।
तुलसी भवानिहि पूजी पुनि-पुनि
मुदित मन मन्दिर चली ॥७॥

॥सोरठा॥
जानी गौरी अनुकूल सिय
हिय हरषु न जाइ कहि ।
मंजुल मंगल मूल वाम
अङ्ग फरकन लगे।

7. मेरे नईया में राम आये हैं (Meri Naiya Me Ram Aaye Hai Lyrics in Hindi) - 


मेरी चौखट पे चल के आज
चारो धाम आये हैं
बजाओ ढोल स्वागत में
मेरे घर राम आये हैं

कथा शबरी की जैसे
जुड़ गयी मेरी कहानी से
ना रोको आज धोने दो चरण
आँखों के पानी से
बहोत खुश हैं मेरे आंसू
के प्रभु के काम आये हैं
बजाओ ढोल स्वागत में
मेरे घर राम आये है

तुमको पा के क्या पाया है
सृष्टि के कण कण से पूछो
तुमको खोने का दुःख क्या है
कौसल्या के मन से पूछो
द्वार मेरे ये अभागे
आज इनके भाग जागे

बड़ी लम्बी इन्तेज़ारी हुई
रघुवर तुम्हारी तब
आयी है सवारी

संदेशे आज खुशियों के
हमारे नाम आये है
बजाओ ढोल स्वागत में
मेरे घर राम आये है

दर्शन पा के हे अवतारी
धनि हुए हैं नैन पुजारी
जीवन नइयाँ तुमने तारी
मंगल भवन अमंगल हारी
मंगल भवन अमंगल हारी

निर्धन का तुम धन हो राघव
तुम ही रामयण हो राघव
सब दुःख हरना अवध बिहारी
मंगल भवन अमंगल हारी

मंगल भवन अमंगल हारी
मंगल भवन अमंगल हारी

चरण की धुल ले लूँ मैं
मेरे भगवन आये है
बजाओ ढोल स्वागत में
मेरे घर राम आये है

मेरी चौखट पे चल के आज
चारो धाम आये हैं
बजाओ ढोल स्वागत में
मेरे घर राम आये हैं ||

8. रामा रामा रटते रटते बीती रे उमरिया (Rama Rama Ratate Ratate Lyrics in Hindi) - 


रामा रामा रटते रटते
बीती रे उमरिया ।
रघुकुल नंदन कब आओगे
भिलनी की डगरिया ॥

मैं शबरी भिलनी की जाई
भजन भाव ना जानु रे ।
राम तेरे दर्शन के हित
वन में जीवन पालूं रे ।
चरणकमल से निर्मल करदो
दासी की झोपड़िया ॥
॥ रामा रामा रटते रटते..॥

रोज सवेरे वन में जाकर
फल चुन चुन कर लाऊंगी ।
अपने प्रभु के सन्मुख रख के
प्रेम से भोग लगाऊँगी ।
मीठे मीठे बेरों की मैं
भर लाई छबरिया ॥
॥ रामा रामा रटते रटते..॥

श्याम सलोनी मोहिनी मूरत
नैयनो बीच बसाऊंगी ।
सुबह शाम नित उठकर मै तो
तेरा ध्यान लगाऊँगी ।
पद पंकज की रज धर मस्तक
जीवन सफल बनाउंगी ।
अब क्या प्रभु जी भूल गए हो
दासी की डगरिया ॥
॥ रामा रामा रटते रटते..॥

नाथ तेरे दर्शन की प्यासी
मैं अबला इक नारी हूँ ।
दर्शन बिन दोऊ नैना तरसें
सुनलो बहुत दुखारी हूँ ।
हरी रूप में दर्शन देदो
डालो एक नजरिया ॥
॥ रामा रामा रटते रटते..॥

रामा रामा रटते रटते
बीती रे उमरिया ।
रघुकुल नंदन कब आओगे
भिलनी की डगरिया ॥

9. मने राम नाम धुन लागी आज लिरिक्स (Mane Ram Naam Dhun Lagi Aaj Lyrics in Hindi) - 


मने राम नाम धुन लागी आज,
सतसंग में म्हारो मन लाग्यो,
मैं तो मोह माया ने त्यागी आज,
सतसंग में म्हारो मन लाग्यो,
ऐसी लगन हरी संग लागी आज,
सतसंग में म्हारो मन लाग्यो…

सब बंधन जग का छूट्या आज,
सतसंग में म्हारो मन लाग्यो,
हरी चरणा में रम जाऊँ आज,
सतसंग में म्हारो मन लाग्यो,
मने राम नाम धुन लागी आज,
सतसंग में म्हारो मन लाग्यो…

गुरु अंतर का पट खोल्या आज,
सतसंग में म्हारो मन लाग्यो,
हरी नाम बिना नहीं दूजो काज,
सतसंगमें म्हारो मन लाग्यो,
मने राम नाम धुन लागी आज,
सतसंग में म्हारो मन लाग्यो…

म्हारे रोम रोम में बस गया राम,
सतसंग में म्हारो मन लाग्यो,
हरी कारण छोड़ी लोक ने लाज,
सतसंग में म्हारो मन लाग्यो,
म्हने राम नाम धुन लागी आज,
सतसंग में म्हारो मन लाग्यो…

म्हारा सपना में रामजी पधारया आज,
सतसंगमें म्हारो मन लाग्यो,
म्हारी जनम जनम की मिट गई प्यास,
सतसंग में म्हारो मन लाग्यो,
म्हने राम नाम धुन लागी आज,
सतसंग में म्हारो मन लाग्यो…

मने मिल गयो राम को आशीर्वाद,
सतसंग में म्हारो मन लाग्यो,
मैं तो झूम झूम हरी गुण गाऊं आज,
सतसंग में म्हारो मन लाग्यो,
म्हने राम नाम धुन लागी आज,
सतसंग में म्हारो मन लाग्यो…

म्हणे राम नाम धुन लागी आज,
सतसंगमें म्हारो मन लाग्यों,
म्हे तो मोह माया ने त्यागी आज,
सतसंगमें म्हारो मन लाग्यो,
ऐसी लगन हरी संग लागी आज,
सतसंग में म्हारो मन लाग्यो…||


10.मुझे राम से मिला दे बाला तू करदे किरपा (Mujhe Ram Se Mila De Bala Tu karde kirpa Lyrics in Hindi) - 



मुझे राम से मिला दे
बाला तू करदे किरपा

तू है राम का दीवाना 
जाने पता ठिकाना
देखि सिया ने भक्ति 
बेटा तुम्हे ही माना
एक पल में ऋण चूका 
दे बाला तू करदे किरपा
मुझे राम से मिला दे

जपता तू रोज माला 
तेरा काम है निराला
तन पे सिंधुरी चोला 
घर में प्रभु की माला
जपना मुझे सीखा दे 
बाला तू करदे किरपा
मुझे राम से मिला दे

सदा राम नाम गावे 
और नाम न सुहावे
श्री राम जब भुलावे 
तू दोड़ा दोड़ा आवे
मेरा भी संग निभा दे 
बाला तू करदे किरपा
मुझे राम से मिला दे

तेरे बाला दर पे आते 
चरणों में सिर झुकाते
कैलाश पास रह के 
सदा थारी महिमा गाते
ओ पाठ तू पड़ा दे 
बाला तू करदे किरपा
मुझे राम से मिला दे ||



Ads Area