Type Here to Get Search Results !

तू कहता कागद की लेखी मैं कहता आँखिन की देखी दोहे का अर्थ(Tu Kahata Kaagad Ki Lekhi Mai KahataAnkhin Ki Dekhi Dohe Ka Arth in Hindi)

 

तू कहता कागद की लेखी मैं कहता आँखिन की देखी दोहे का अर्थ(Tu Kahata Kaagad Ki Lekhi Mai KahataAnkhin Ki Dekhi Dohe Ka Arth in Hindi):-


तू कहता कागद की लेखी मैं कहता आँखिन की देखी ।
मैं कहता सुरझावन हारि, तू राख्यौ उरझाई रे ।

 

तू कहता कागद की लेखी मैं कहता आँखिन की देखी दोहे का अर्थ(Tu Kahata Kaagad Ki Lekhi Mai KahataAnkhin Ki Dekhi Dohe Ka Arth in Hindi)


तू कहता कागद की लेखी मैं कहता आँखिन की देखी दोहे का अर्थ(Tu Kahata Kaagad Ki Lekhi Mai KahataAnkhin Ki Dekhi Dohe Ka Arth in Hindi):-

तुम कागज़ पर लिखी बात को सत्य  कहते हो – तुम्हारे लिए वह सत्य है जो कागज़ पर लिखा है। किन्तु मैं आंखों देखा सच ही कहता और लिखता हूँ। कबीर पढे-लिखे नहीं थे पर उनकी बातों में सचाई थी। मैं सरलता से हर बात को सुलझाना चाहता हूँ – तुम उसे उलझा कर क्यों रख देते हो? जितने सरल बनोगे – उलझन से उतने ही दूर हो पाओगे।



Ads Area