Type Here to Get Search Results !

तीरथ गए से एक फल संत मिले फल चार दोहे का अर्थ(Tirath Gaye Se Ek Phal Sant Mile Phal Char Dohe Ka Arth in Hindi) - Bhaktilok


तीरथ गए से एक फल संत मिले फल चार दोहे का अर्थ(Tirath Gaye Se Ek Phal Sant Mile Phal Char Dohe Ka Arth in Hindi) - 


तीरथ गए से एक फल, संत मिले फल चार ।

सतगुरु मिले अनेक फल, कहे कबीर विचार ।


तीरथ गए से एक फल संत मिले फल चार दोहे का अर्थ(Tirath Gaye Se Ek Phal Sant Mile Phal Char Dohe Ka Arth in Hindi) - Bhaktilok


तीरथ गए से एक फल संत मिले फल चार दोहे का अर्थ(Tirath Gaye Se Ek Phal Sant Mile Phal Char Dohe Ka Arth in Hindi):-

तीर्थ करने से एक पुण्य मिलता है, लेकिन संतो की संगति से  पुण्य मिलते हैं। और सच्चे गुरु के पा लेने से जीवन में अनेक पुण्य मिल जाते हैं



Ads Area