Type Here to Get Search Results !

कबीरा खड़ा बाज़ार में मांगे सबकी खैर दोहे का अर्थ(Kabira Khada Bazar Me Sabki Mange Khair Dohe Ka Arth in Hindi) - Bhaktilok


कबीरा खड़ा बाज़ार में मांगे सबकी खैर दोहे का अर्थ(Kabira Khada Bazar Me Sabki Mange Khair Dohe Ka Arth in Hindi):- 


कबीरा खड़ा बाज़ार में, मांगे सबकी खैर,

ना काहू से दोस्ती,न काहू से बैर।

 

कबीरा खड़ा बाज़ार में मांगे सबकी खैर दोहे का अर्थ(Kabira Khada Bazar Me Sabki Mange Khair Dohe Ka Arth in Hindi) - Bhaktilok

कबीरा खड़ा बाज़ार में मांगे सबकी खैर दोहे का अर्थ(Kabira Khada Bazar Me Sabki Mange Khair Dohe Ka Arth in Hindi):-

इस संसार में आकर कबीर अपने जीवन में बस यही चाहते हैं कि सबका भला हो और संसार में यदि किसी से दोस्ती नहीं तो दुश्मनी भी न हो !




Ads Area