Type Here to Get Search Results !

होली खेल रहे बांकेबिहारी आज रंग बरस रहा लिरिक्स (Holi khel rahe baanke bihari aaj rang baras raha Lyrics in Hindi) - Krishna bhajan - Bhaktilok


होली खेल रहे बांकेबिहारी आज रंग बरस रहा लिरिक्स (Holi khel rahe baanke bihari aaj rang baras raha Lyrics in Hindi) - 


होली खेल रहे बांकेबिहारी आज रंग बरस रहा।

और झूम रही दुनिया सारी, आज रंग बरस रहा॥


अबीर गुलाल के बादल छा रहे है।

होरी है होरी है छोर मचा रहे।

झोली भर के गुलाल कि मारी, आज रंग बरस रहा॥


देख देख सखियन के मन हर्षा रहे।

मेरे बांके बिहारी आज प्रेम बरसा रहे।

उनके संग में हैं राधा प्यारी, आज रंग बरस रहा॥


आज नंदलाला ने धूम मचाई है।

प्रेम भरी होली कि झलक दिखायी है।

रंग भर भर के मारी पिचकारी, आज रंग बरस रहा॥


अबीर गुलाल और ठसो का रंग है।

वृंदावन बरसानो झूम रह्यो संग है।

मैं बार बार जाऊं बलिहारी॥


होली खेल रहे बांकेबिहारी आज रंग बरस रहा लिरिक्स (Holi khel rahe baanke bihari aaj rang baras raha Lyrics in English) -


holee khel rahe baankebihaaree aaj rang gulaal uda rahe hain.

aur jam rahee duniya saaree, aaj rang badalatee rahee.


abeer gulaal ke baadal chha rahe hain.

horee hai horee hai chaar macha rahe.

jholee bhar ke gulaal kee maaree, aaj rang barasata raha.


dekh-dekh sakhiyaan ke man harsha rahe.

mere baanke bihaaree aaj prem bar rahe.

unake gaane mein hain raadha pyaaree, aaj rang bikheratee raheen.


aaj nandalaala ne dhoom machaee hai.

prem bharee holee kee manamohak tasveer.

rang bhar ke maaree pichakaaree, aaj rang baras raha hai.


abeer gulaal aur thaso ka rang hai.

vrndaavan baaraano joom rahayo sang hai.

main baar-baar jaoon balihaaree.||


 

Ads Area