होली खेले मसाने में काशी में घाट में खेले लिरिक्स (Holi Khele Masane Me Kashi Me Ghat Me Khele Lyrics in Hindi) - Shiv Bhajan - Bhaktilok

Deepak Kumar Bind

 


होली खेले मसाने में काशी में घाट में खेले लिरिक्स (Holi Khele Masane Me Kashi Me Ghat Me Khele Lyrics in Hindi) - 


होली खेले मसाने में 

काशी में घाट में खेले

होली खेले मसाने में

काशी में घाट में खेले

होली खेले मसाने में।।


तन में भस्म लगाये शंकर

वेश बड़ा विज्ञापन भंग है

माथे पर चंद्रमा विराजे

जाता में सोहे गंगा

खोल दिया है नयन तीसरा।।


होली खेले मसाने में

होली खेले मसाने में

हरि रख से खेले जय भोले

हरि भस्म से खेले जय भोले।।


भंगिया पीवे भोले शंकर

धतूरा को खावे रे

चौसठ योगनि नाचे गावे

दम दम डमरू बजावे।।


मसान की राख से खेले होली

धूम मचावे मसाने में।।


होली खेले मसाने में

होली खेले मसाने में

भूत प्रेत परिवार बाजे

गोजर बिछु कीरा रे।।


जहर हाल पी बाबा

मन में राखे धीरे रे।।


गालवा में मुंड माल लपेटे

भुतवन संग मसाने में

होली खेले मसाने में

होली खेले मसाने में।।


होली खेले मसाने में काशी में घाट में खेले लिरिक्स (Holi Khele Masane Me Kashi Me Ghat Me Khele Lyrics in English) -


Holi Khele Masane Mein

Kashi Mein Ghat Mein Khele

Holi Khele Masane Mein


Tan Mein Bhasma Lagaye Shankar

Vesh Bada Ad Bhanga Hai

Mathe Per Chndrama Viraje

Jata Mein Sohe Ganga

Khol Diya Hai Nayan Teesra


Holi Khele Masane Mein

Holi Khele Masane Mein

Hari Rakh Se Khele Jai Bhole

Hari Bhasma Se Khele Jai Bhole


Bhangiya Peeve Bhole Shankar

Dhatura Ko Khave Re

Chausath Yogani Naache Gaave

Dum Dum Damroo Bajave


Masan Ki Raakh Se Khele Holi

Dhoom Machave Masane Mein


Holi Khele Masane Mein

Holi Khele Masane Mein

Bhoot Pret Parivar Baje

Gojar Bichhu Keera Re


Jahar Hala Hal Peeye Baba

Man Mein Rakhe Dheera Re


Galva Mein Mund Maal Lapete

Bhutvan Sang Masane Mein

Holi Khele Masane Mein

Holi Khele Masane Mein



Post a Comment

0Comments

If you liked this post please do not forget to leave a comment. Thanks

Post a Comment (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !