Type Here to Get Search Results !

कालसर्प दोष की पूजा विधि (Kaalasarp Dosh ki Pooja Vidhi in Hindi) - Bhaktilok

कालसर्प दोष की पूजा विधि (Kaalasarp Dosh ki Pooja Vidhi in Hindi):-

कालसर्प दोष की पूजा विधि (Kaalasarp Dosh ki Pooja Vidhi in Hindi) - Bhaktilok

कालसर्प दोष की पूजा विधि (Kaalasarp Dosh ki Pooja Vidhi in Hindi):-

हिन्दू धर्म में सावन शुक्ल पंचमी तिथि को नाग पंचमी के अवसर पर नागों की पूजा करने की परंपरा है। नागपंचमी के दिन कुंडली में कालसर्प दोष की शांति या उससे मुक्ति के लिए भी पूजा कराई जाती है। और या आप निम्न मन्त्रों का प्रयोग करके अपनी कुण्डी में काल सर्प योग से मुक्ति पा सकते हैं।

कालसर्प दोष की पूजा मंत्र (kaalasarp dosh kee pooja mantr):-


सर्प मंत्र- ॐ नागदेवताय नम:

नाग गायत्री मंत्र- ॐ नवकुलाय विद्यमहे विषदंताय धीमहि तन्नो सर्प: प्रचोदयात्


राहु मंत्र : ॐ भ्रां भ्रीं भ्रौं स: राहवे नम:

केतु मंत्र : ॐ स्त्रां स्त्रीं स्त्रौं स: केतवे नम:।


 भगवान शिव की शिवलिंग पूजा करें , महामृत्युंजय मंत्र का जाप करें और एक छोटे चांदी,ताम्बे या पीतल के नाग की प्रतिष्ठा करवाकर शिवलिंग पर चढ़ा देने से काल सर्प दोष से मुक्ति मिलती है।






Ads Area