Type Here to Get Search Results !

जाति न पूछो साधु की पूछ लीजिये ज्ञान मोल करो तरवार का दोहे का अर्थ(Jati Na Puchho Sadhu Ki Puchh Lijiye Gyan Dohe Ka Arth in Hindi) - Bhaktilok


जाति न पूछो साधु की पूछ लीजिये ज्ञान मोल करो तरवार का दोहे का अर्थ(Jati Na Puchho Sadhu Ki Puchh Lijiye Gyan Dohe Ka Arth in Hindi)- 


जाति न पूछो साधु की, पूछ लीजिये ज्ञान,

मोल करो तरवार का, पड़ा रहन दो म्यान।

 

जाति न पूछो साधु की पूछ लीजिये ज्ञान मोल करो तरवार का दोहे का अर्थ(Jati Na Puchho Sadhu Ki Puchh Lijiye Gyan Dohe Ka Arth in Hindi) - Bhaktilok


जाति न पूछो साधु की पूछ लीजिये ज्ञान मोल करो तरवार का दोहे का अर्थ(Jati Na Puchho Sadhu Ki Puchh Lijiye Gyan Dohe Ka Arth in Hindi):-


सज्जन की जाति न पूछ कर उसके ज्ञान को समझना चाहिए। तलवार का मूल्य होता है न कि उसकी मयान का – उसे ढकने वाले खोल का।




Ads Area