Type Here to Get Search Results !

जाती न पूछो साधू की दोहे का अर्थ (Jaati Na Puchho Sadhu ki Dohe Ka Arth in Hindi)

 

जाती न पूछो साधू की दोहे का अर्थ (Jaati Na Puchho Sadhu ki Dohe Ka Arth in Hindi):-


साधु भूखा भाव का धन का भूखा नाहीं ।
धन का भूखा जो फिरै सो तो साधु नाहीं ।

 

जाती न पूछो साधू की दोहे का अर्थ (Jaati Na Puchho Sadhu ki Dohe Ka Arth in Hindi)


जाती न पूछो साधू की दोहे का अर्थ (Jaati Na Puchho Sadhu ki Dohe Ka Arth in Hindi):-

सच्चा साधु सब प्रकार के भेदभावों से ऊपर उठ जाता है। उससे यह न पूछो की वह किस जाति का है साधु कितना ज्ञानी है यह जानना महत्वपूर्ण है। साधु की जाति म्यान के समान है और उसका ज्ञान तलवार की धार के समान है। तलवार की धार ही उसका मूल्य है – उसकी म्यान तलवार के मूल्य को नहीं बढाती।



Ads Area