Type Here to Get Search Results !

वृन्दावन जाऊँगी सखी री वृन्दावन जाऊँगी लिरिक्स (Vrindavan Jaungi Sakhi Ri Vrandavan Jaungi Lyrics in Hindi) - New Krishna Bhajan - Bhaktilok


वृन्दावन जाऊँगी सखी री वृन्दावन जाऊँगी लिरिक्स (Vrindavan Jaungi Sakhi Ri Vrandavan Jaungi Lyrics in Hindi) - 


सखी वृन्दावन जाउंगी
मेरे उठे विरह में पीर
सखी वृन्दावन जाउंगी
मुरली बाजे यमुना तीर
सखी वृन्दावन जाउंगी

छोड़ दिया मेने भोजन पानी
श्याम की याद में
छोड़ दिया मेने भोजन पानी
श्याम की याद में
मेरे नैनन बरसे नीर
सखी वृन्दावन जाउंगी

श्याम सलोनी सूरत पे
दीवानी हो गई
अब कैसे धारू धीर सखी
सखी वृन्दावन जाउंगी

इस दुनिया के रिश्ते नाते
सब ही तोड़ दिए
तुझे कैसे दिखाऊं दिल चिर
सखी वृन्दावन जाउंगी

नैन लड़े मेरे गिरधारी से
बावरी हो गई
दुनिया से हो गई अंजानी
सखी वृन्दावन जाउंगी

मेरे उठे विरह में पीर,
सखी वृन्दावन जाउंगी
मुरली बाजे यमुना तीर
सखी वृन्दावन जाउंगी

वृन्दावन जाऊँगी सखी री वृन्दावन जाऊँगी लिरिक्स (Vrindavan Jaungi Sakhi Ri Vrandavan Jaungi Lyrics in English) - 


Sakhee Vrndaavan Jaungee
Mere Uthe Virah Mein Peer
Sakhee Vrndaavan Jaungee
Muralee Baaje Yamuna Teer
Sakhee Vrndaavan Jaungee

Chhod Diya Mene Bhojan Paanee
Shyaam Kee Yaad Mein
Chhod Diya Mene Bhojan Paanee
Shyaam Kee Yaad Mein
Mere Nainan Barase Neer
Sakhee Vrndaavan Jaungee

Shyaam Salonee Soorat Pe
Deevaanee Ho Gaee
Ab Kaise Dhaaroo Dheer Sakhee
Sakhee Vrndaavan Jaungee

Is Duniya Ke Rishte Naate
Sab Hee Tod Die
Tujhe Kaise Dikhaoon Dil Chir
Sakhee Vrndaavan Jaungee

Nain Lade Mere Giradhaaree Se
Baavaree Ho Gaee
Duniya Se Ho Gaee Anjaanee
Sakhee Vrndaavan Jaungee

Mere Uthe Virah Mein Peer,
Sakhee Vrndaavan Jaungee
Muralee Baaje Yamuna Teer
Sakhee Vrndaavan Jaungee


Ads Area