Type Here to Get Search Results !

सब कुछ मिला रे भोले रहमत से तेरी भजन लिरिक्स (Sab Kuch Mila Re Bhole Rahmat Se Teri Lyrics in Hindi) - by Hansraj Raghuwanshi - Bhaktilok


सब कुछ मिला रे भोले रहमत से तेरी भजन लिरिक्स (Sab Kuch Mila Re Bhole Rahmat Se Teri Lyrics in Hindi) - 


सब कुछ मिला रे भोले

रहमत से तेरी

तूने ही है सुनी

इल्तेज़ा मेरी


बनके फकीर मैं चलेया

राह मे तेरी

तू ना मिलेया मुझको

आस है तेरी


सब कुछ मिला रे भोले

रहमत से तेरी

तूने ही है सुनी

इल्तेज़ा मेरी


तन एक मंदिर है

रूह एक ज़रिया

यूं ना मिलेगा चाहे

खोज लो दरिया


रहता कहाँ पे तू

किस देश भेश में

फिर जा मुझे बस सुन ले

इतनी सी फरियाद


ना कोई अपना है

सब है पराया

तुझसे ही है मोहब्बत

बेइंतेहा मेरी


सब कुछ मिला रे भोले

रहमत से तेरी

तूने ही है सुनी

इल्तेज़ा मेरी


बनके फकीर मैं चलेया

राह मे तेरी

तू ना मिलेया मुझको

आस है तेरी


कठिन सफर में बनके

फिर रहा बंजारा

राह में कांटे है फिर भी

क्या खूब है नज़ारा


कठिन सफर में बनके

फिर रहा हूँ बंजारा

राह में कांटे है फिर भी

खूब है नज़ारा


जानता है तू भोले

हर चित्त की चोरी

तूने है थामी मेरे

जीवन की ये डोरी


मेरी है सांस तू है

मेरा विश्वास तू है

किस्मत की है ना जरूरत

लकीरों को मेरी


सब कुछ मिला रे भोले

रहमत से तेरी

तूने ही है सुनी

इल्तेज़ा मेरी


बनके फकीर मैं चलेया

राह मे तेरी

तू ना मिलेया मुझको

आस है तेरी


सब कुछ मिला रे भोले

रहमत से तेरी

तूने ही है सुनी

|| इल्तेज़ा मेरी ||


सब कुछ मिला रे भोले रहमत से तेरी भजन लिरिक्स (Sab Kuch Mila Re Bhole Rahmat Se Teri Lyrics in English) -


Sab kuch mila re bhole

Rahmat se teri

Tune hi hai suni

Iltezaa meri


Banke fakeer main chaleyaa

Raah me teri

Tu na mileya mujhko

Aas hai teri


Sab kuch mila re bhole

Rahmat se teri

Tune hi hai suni

Iltezaa meri


Tan ek mandir hai

Rooh ek zariyaa

Yun na milega chaahe

Khoj lo dariya


Rahta kahan pe tu

Kis desh bhesh me

Fir ja mujhe bas sun le

Itni si fariyaad


Na koi apna hai

Sab hai paraaya

Tujhse hi hai mohabbat

Beinthaan meri


Sab kuch mila re bhole

Rahmat se teri

Tune hi hai suni

Iltezaa meri


Banke fakeer main chaleyaa

Raah me teri

Tu na mileya mujhko

Aas hai teri


Kathin safar mein banke

Phir rahaa banjaaraa

Raah me kaante hai fir bhi

Kya khoob hai nazaara-x2


Jaanta hai tu bhole

Har chitt ki chori

Tune hai thaami mere

Jeewan ki ye dori


Meri hai saans tu hai

Mera vishwaas tu hai

Kismat ki hai na zaroorat

Lakeeron ko meri


Sab kuch mila re bhole

Rahmat se teri

Tune hi hai suni

Iltezaa meri


Banke fakeer main chaleyaa

Raah me teri

Tu na mileya mujhko

Aas hai teri


Sab kuch mila re bhole

Rahmat se teri

Tune hi hai suni

Iltezaa meri


*** Singer - Hansraj Raghuwanshi ***






Ads Area